Menu

6 Comments

  1. rsbharti
    April 23, 2018 @ 4:41 pm

    अच्छी कहानी है

    • devendra
      April 24, 2018 @ 4:19 am

      शुक्रिया सर 🙂

  2. Dolly Parihar
    April 23, 2018 @ 7:47 pm

    पहले मुझे लगा कि आपने गिलहरी क्यों नहीं बचाई? आपको गिलहरी बचानी चाहिए थी लेकिन फिर अंत बहुत अच्छा लगा। ☺ बाकी कहानी भी बहुत अच्छी है।

    • devendra
      April 24, 2018 @ 4:19 am

      धन्यवाद 🙂

  3. Dolly Parihar
    April 23, 2018 @ 7:51 pm

    मैं आपकी कहानी की समीक्षा नहीं कर रही। ??? मैं तो बस यूँ ही अपना व्यू बता रही हूँ। ☺

    • devendra
      April 24, 2018 @ 4:19 am

      अरे समीक्षा भी कीजिये और चाहें तो आलोचना भी; आप स्वतंत्र हैं 🙂

Leave a Reply