लेकिन मैं भी तुमसे प्यार करती हूँ

‘ट्रू स्टोरी’ लिखना आसान नहीं होता, क्योंकि वो कहानी नहीं होती, हक़ीक़त होती है. वहाँ कल्पना की उड़ान के लिए एक विस्तृत आकाश नहीं होता. उसके किरदार असली होते हैं, उनके साथ अधिक छेड़छाड़ नहीं की जा सकती. और फिर जब वह एक लव स्टोरी हो और इरॉटिक तत्व भी हों तो मामला और भी पेचीदा हो जाता है.
तापस चतुर्वेदी एक ऐसा ही उपन्यास लिख रहे हैं जिसे हम ‘साहिंद’ पर धारावाहिक रूप से ले रहे हैं.

Load More