2 Comments

  1. मृणाल आशुतोष
    नवम्बर 28, 2018 @ 6:51 पूर्वाह्न

    शानदार समीक्षा डॉक्टर जोशी। लेखिका अनघा जोगेलकर जी ने लाजबाब लिखा है। बधाई प्रेषित है उनको।

  2. Manoj prabhakar
    नवम्बर 28, 2018 @ 7:42 पूर्वाह्न

    Appreciable

प्रातिक्रिया दे