2 Comments

  1. Rakesh Shankar Rakesh Shankar
    अप्रैल 23, 2018 @ 4:14 अपराह्न

    अब इंटरनेट के ज़माने में किसी किताब नहीं मर सकती है, हाँ एक बात है, प्रिंटिंग बुक घट जायेगी.

  2. अभिषेक सूर्यवंशी अभिषेक सूर्यवंशी
    मार्च 8, 2020 @ 9:42 पूर्वाह्न

    किंडल से स्क्रीनशॉट लेकर उसे पीडीएफ में बदला जा रहा है। मेरी किताब की तो हो गई है। आपकी तो पहले से ही थी।

प्रातिक्रिया दे